NF Railway (Construction)
NF Railway (Construction)
NF Railway (Construction)
NF Railway (Construction)
NF Railway (Construction)
NF Railway (Construction)
NF Railway (Construction)
NF Railway (Construction)
NF Railway (Construction)
परियोजनाओं का विवरण उपलब्धियां निविदाएं ठेका बिल स्टे ठेकेदारों एवं सप्लासइरों का पंजीकरण शिड्यूल ऑफ पावर संपत्ति का विवरण लेखागार आर टी आई ट्रेन सूचनाएं रेलवे यूजर्स लॉगिन अन्ये रेलवे साइटें  

Home

पू. सी. रेल, निर्माण संगठन के वेबसाइट पर आपका स्वागत है  

संक्षिप्त विवरण

पूर्वोत्तर के सात राज्यों असम, त्रिपुरा, मेघालय, मणिपुर, नगालैंड, अरूणाचल एवं मिजोरम के सामाजिक-आर्थिक एवं संतुलित विकास हेतु परामर्शी निकाय के रूप में कार्य करने के लिए संसद में भारत सरकार द्वारा वर्ष 1971 में पूर्वोत्तर परिषद (एन सी) अधिनियमित कर गठित की गई। किसी भी क्षेत्र के द्रुतगामी विकास के लिए रेल विस्तृत आधारभूत संरचना युक्त एक महत्वपूर्ण सेक्टर रहा है। पूर्वोत्तर राज्यों ने पूर्वोत्तर परिषद मंच के माध्यम से असम के निकटवर्ती  पहाड़ी  राज्यों में रेल सम्पर्क की मांग करते रहे हैं। तद्नुसार, भारत सरकार ने वर्ष 1979 में : पहाड़ी राज्यों में से प्रत्येक में एक नई लाइन बिछाने का निर्णय लिया। साथ ही पूर्वोत्तर परिषद ने भी तेजपुर के निकट ब्रह्मपुत्र पर 3 कि.मी. लम्बी पुल के निर्माण का निर्णय लिया। रेल को यह निर्माण निक्षेप कार्य के रूप में सौंपा गया। रेलवे ने पूर्वोत्तर क्षेत्र के रेल निर्माण परियोजनाओं के बृहत आकांक्षाओं को ध्यान में रखते हुए नई एवं अन्य चालू कार्य के साथ बीजी लाइन परियोजनाओं के प्रबन्धन एवं नियंत्रण हेतु गुवाहाटी मुख्यालयाधीन महाप्रबन्धक के नेतृत्व में एक अलग निर्माण संगठन का सृजन किया। इस प्रकार महाप्रबन्धक पू. सी. रेल निर्माण के अधीन एक  अलग  निर्माण संगठन का शुभारम्भ हुआ।

पू. सी. रेल, निर्माण को 18-01-79 से 03-07-79 तक नेतृत्व प्रदान करने वाले प्रथम महाप्रबन्धक श्री एन नीलकांत शर्मा थे। निर्माण संगठन प्रारम्भ से लेकर अब तक 14 महाप्रबन्धकों का नेतृत्व प्राप्त कर चुका है जिन्होंने इसे नई ऊँचाईयों तक पहुंचाया एवं अनेकों दुर्लभ उपलब्धियों को प्राप्त किया।

News & Events

NEW GENERAL MANAGER OF N

पूर्वोत्तैर सीमा रेल/निर्माण के नए महाप्रबंधक

श्री एच.के. जग्‍गी ने दिनांक 21.10.2015 को पूर्वोत्‍तर सीमा रेल निर्माण संगठन के नए महाप्रबंधक के रूप में अपना कार्यभार ग्रहण किया। इससे पूर्व वे उत्‍तर रेलवे में मुख्‍य प्रशासनिक अधिकारी/निर्माण के पद पर कार्यरत थे। उन्‍होंने वर्ष 1978 में दिल्‍ली इंजीनियरिंग कालेज से विशेष योग्‍यता के साथ प्रथम श्रेणी में स्‍नातक की डिग्री हासिल की। उन्‍होंने आई.आई.पी.ए. से पॉब्लिक अडमिनिस्‍ट्रेश्‍न  में भी स्‍नातकोत्‍तर की डिप्‍लोमा प्राप्‍त की। श्री जग्‍गी ने देश के विभिन्‍न स्‍थानों में कई महत्‍वपूर्ण पदों पर कार्यरत थे। महाप्रबंधक के रूप में उनकी नियुक्ति से पूर्व वे उत्‍तर रेलवे में मुख्‍य प्रशास निक अधिकारी के पद पर नई लाइन, दोहरीकरण एवं मुख्‍य यार्डों के पुन:स्‍थापन के कार्य सहित कई महत्‍वपूर्ण निर्माण कार्य तथा सर्वेक्षण परियोजनाओं का नेतृत्‍व किया। उनकी अन्‍य महत्‍वपूर्ण नियुक्तियॉं यथा सचिव, रेलवे बोर्ड, सलाहकार (एल व ए), रेल मंत्रालय, प्रधान मुख्‍य इंजीनियर उत्‍तर पश्चिम रेलवे, मंडल रेल प्रबंधक, अम्‍बाला, मुख्‍य ट्रैक इंजीनियर, उत्‍तर रेलवे, मुख्‍य पुल इंजीनियर, उत्‍तर रेलवे के पद पर हुई।  उन्‍होंने कई राष्‍ट्रीय एवं अंतरराष्‍ट्रीय कार्यशालाओं तथा प्रशिक्षण कार्यक्रमों में भाग लिया और कार्यलयीन दौरे के सिलसिले में अर्जन्‍टीना, बेलजियम, चीन, फ्रंस, इटली, मेक्सिको, रूस, सिंगापोर तथा इंगलेंड का भी दौरा किया।

 

NF Railway (Construction) - Powered by WebX